गैड़-गडगू मोटर मार्ग पर लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों के खिलाफ कार्यवाही न होने पर 10 मई को रूद्रप्रयाग-गौरीकुण्ड नेशनल हाईवे पर चक्का जाम की चेतावनी.. रिपोर्ट – लक्ष्मण नेगी

गैड़-गडगू मोटर मार्ग पर लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों के खिलाफ कार्यवाही न होने पर 10 मई को रूद्रप्रयाग-गौरीकुण्ड नेशनल हाईवे पर चक्का जाम की चेतावनी.. रिपोर्ट – लक्ष्मण नेगी
0 0
Read Time:6 Minute, 0 Second

गैड़-गडगू मोटर मार्ग पर लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों के खिलाफ कार्यवाही न होने पर 10 मई को रूद्रप्रयाग-गौरीकुण्ड नेशनल हाईवे पर चक्का जाम की चेतावनी.. रिपोर्ट – लक्ष्मण नेगी

ऊखीमठ : एन पी सी सी के निर्माणाधीन गैड़ – गडगू मोटर मार्ग पर कछुआ गति से कार्य होने, मोटर मार्ग निर्माण में गुणवत्ता को दर – किनार करने सहित 8 सूत्रीय मांगो को लेकर गडगू गाँव के ग्रामीणों ने गडगू से गैड़ तक विशाल प्रदर्शन कर प्रदेश सरकार, जनपद व तहसील प्रशासन तथा एन पी सी सी के खिलाफ जोरदार नारेबाजी कर अपने गुस्से का इजहार किया। ग्रामीणों ने विभिन्न स्थानों पर चल रहें निर्माण कार्य को भी रुकवाया तथा तहसील प्रशासन के माध्यम से प्रधानमंत्री को ज्ञापन भेजकर मोटर मार्ग पर त्वरित गति से निर्माण कार्य न होने तथा लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों के खिलाफ कार्यवाही न होने पर 10 मई को रूद्रप्रयाग – गौरीकुण्ड नेशनल हाईवे पर चक्का जाम की चेतावनी दी! शुक्रवार को पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत गडगू गाँव के सैकड़ों ग्रामीण गडगू गाँव के मध्य बन रहे बस स्टेशन पर एकत्रित हुए तथा गडगू गाँव से गैड़ तक जोरदार प्रदर्शन करते हुए प्रदेश सरकार, जिला व तहसील प्रशासन तथा एन पी सी सी के खिलाफ जोरदार नारेबाजी की।

                    ग्रामीणों द्वारा एन पी सी सी के निर्माणाधीन गैड़ – गडगू मोटर मार्ग पर कुछ स्थानों पर चल रहे निर्माण कार्यों को भी रुकवाया गया। प्रदर्शनकारियों को सम्बोधित करते हुए जिला पंचायत सदस्य कालीमठ विनोद राणा ने कहा कि विभागीय मानकों के अनुसार गैड़ – गडगू निर्माणाधीन मोटर मार्ग का निर्माण कार्य मार्च 2022 में पूरा होना था मगर एन पी सी सी की लापरवाही से दो किमी मोटर मार्ग पर तीन वर्षों में मात्र 70 प्रतिशत कार्य हो पाया है। उन्होंने कहा कि मोटर मार्ग पर कछुआ गति से हो रहे निर्माण कार्य की शिकायत कई बार जिला योजना व क्षेत्र पंचायत की बैठकों में की गयी मगर सरकारी हुक्मरान ग्रामीणों की फरियाद सुनने के लिए राजी नहीं है। क्षेत्र पंचायत सदस्य लक्ष्मण सिंह राणा ने कहा कि मोटर मार्ग पर कछुआ गति से हो रहे निर्माण कार्य की शिकायत प्रदेश सरकार, जिला व तहसील प्रशासन तक की गयी मगर आज तक किसी भी स्तर से दोषी अधिकारियों के खिलाफ कार्यवाही नहीं हुई है।

                प्रधान बिक्रम सिंह नेगी ने कहा कि ग्रामीणों द्वारा 15 दिन पूर्व तहसील प्रशासन को आठ सूत्रीय मांग सौपकर कार्यवाही की मांग की गयी थी। मगर दो सप्ताह से अधिक समय गुजर जाने के बाद भी प्रशासन के किसी भी अधिकारी के ग्रामीणों ने साथ वार्ता न करने से स्पष्ट हो गया है कि मोटर मार्ग पर निर्माण कार्य कछुआ गति से शासन – प्रशासन के संरक्षण में हो रहा है। देखरेख वन पंचायत सरपंच गब्बर सिंह ने कहा कि मोटर मार्ग के ऊपरी हिस्सों में सुरक्षा दीवालों का निर्माण कार्य न होने से ग्रामीणों ने आवासीय भवनों को खतरा बना हुआ है, जिसकी शिकायत एन पी सी सी के अधिकारियों सहित शासन – प्रशासन से की गयी थी मगर आज तक ग्रामीणों की फरियादियों पर अमल नही हुआ है। दलवीर सिंह नेगी ने कहा कि मोटर का निर्माण कार्य कछुआ गति से होने के कारण मोटर मार्ग जानलेवा बना हुआ है जिससे ग्रामीणों को जान जोखिम डालकर आवाजाही करने पड़ रही है। प्रदर्शन के बाद ग्रामीणों ने तहसील प्रशासन के माध्यम से प्रधानमंत्री को ज्ञापन भेजकर निर्माणाधीन मोटर मार्ग पर त्वरित गति से निर्माण कार्य न होने पर 10 मई को रूद्रप्रयाग – गौरीकुण्ड नेशनल हाईवे पर चक्काजाम की चेतावनी दी है।

                इस मौके पर मदमहेश्वर घाटी विकास मंच अध्यक्ष मदन भटट्, रणजीत सिंह नेगी, कुवर सिंह, रोशन सिंह, जगवीर सिंह, कमला देवी, सरोजा देवी, कुसुम देवी, सरोजनी देवी, कुवरी देवी, वीरपाल सिंह, गौरा देवी, दिलवर सिंह, राजेश सिंह, मनोज सिंह, सुन्दर सिंह नेगी, प्रदीप सिंह सहित सैकड़ों ग्रामीण मौजूद रहे।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

admin

Related Posts

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Read also x

error: Content is protected !!