उत्तराखंड: सदन में पारित हुआ बजट, सत्र अनिश्चित काल के लिए स्थगित, ये विधेयक हुए पास

0 0
Read Time:3 Minute, 4 Second

गैरसैण: उत्तराखंड का विधानसभा सत्र अनिश्चित काल के लिए स्थगित कर दिया गया है। त्रिवेंद्र सरकार ने आज ग्रीष्मकालीन राजधानी गैरसैंण विधानसभा सदन में बजट पारित करवाया। बता दें कि उत्तराखंड का बजट सत्र विगत एक मार्च के राज्य की ग्रीष्मकालीन राजधानी गैरसैंण में शुरू हुआ था, जो आज संपन्न हो गया है।

शनिवार को सुबह 11 बजे विधानसभा की कार्यवाही शुरू हुई। इस दौरान कांग्रेस विधयक प्रीतम सिंह ने भ्रष्टाचार पर 310 में कार्यस्थगन प्रस्ताव रखा। जिसपर विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि यह विषय पहले आ चुका है। आज सदन में विभागों के बजट पर चर्चा हुई। जिसके बाद सदन में बजट पास कर दिया गया और सदन अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया गया।

ये विधेयक आज हुए पास:

  • उत्तराखंड विनियोग विधेयक
  • उत्तराखंड (उत्तरप्रदेश नगर निगम अधिनियम 1959) संशोधन विधेयक
  • उत्तराखंड (उत्तरप्रदेश नगर पालिका अधिनियम 1916) संशोधन विधेयक
  • देवभूमि उत्तराखंड विवि विधेयक
  • सूरजमल विवि विधेयक
  • स्वामी राम हिमालयन विवि (संशोधन) विधेयक।

वहीं आज सदन के पटल पर भारत के नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक की रिपोर्ट भी पेश हुई। यह रिपोर्ट 31 मार्च 2019 को समाप्त हुए वित्तीय वर्ष के लिए जिला चिकित्सालय परिणामों पर आधारित है। सूचना का अधिकार अधिनियम 2014-15 से 2017-18 तक की वार्षिक रिपोर्ट भी सदन पटल पर रखी गई।

विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने कहा कि, यह सत्र पूरी तरह से कामकाजी रहा और यह बेहतर ढंग से संपन्न हुआ। इस सत्र में 630 प्रश्न प्राप्त हुए थे, जिनमे से 141 उत्तरित हुए। सदन में 10 विधेयक पारित किये गये। उन्होंने कहा कि गैरसैण को ग्रीष्मकालीन राजधानी घोषित करने की पहली वर्षगांठ को भी हमने यहां मानाया। इस दौरान 1100 दिए जलाये गये। वहीं उन्होंने कहा कि, सत्र व्यवस्थित ढंग से यह सम्पन्न हुआ। इसके लिए उन्होंने सभी का आभार जताया।

उत्तराखंड समेत सभी न्यूज पाने के लिए जॉइन करें हमारा व्हाट्सएप (WhatsApp) ग्रुप, लिंक पर क्लिक करें.. Bharatjan News Whatsapp Group Link

Bharatjan

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

admin

Related Posts

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Read also x

error: Content is protected !!