VIDEO: मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत को आखिर किसने हडकाया, देखें ये वीडियो..

0 0
Read Time:3 Minute, 6 Second

देहरादून: उत्तराखंड के नए मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेने के बाद तीरथ सिंह रावत गुरुवार को अपने राजनीतिक गुरु और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री भुवन चंद्र खंडूरी से मिलने पहुंचे। तीरथ सिंह रावत, खंडूरी के देहरादून स्थित आवास पहुंचे और आशीर्वाद लिया। इस दौरान जो मुलाकात गुरू और शिष्य के बीच हुई है, उसे देखकर यही लगता है कि वास्तव में बीसी खंडूरी से तीरथ के रिश्ते मुधर ही नहीं परिवारिक भी बहुत है। यही वजह है कि जब तीरथ सिंह रावत बीसी खंडूरी के पास गए तो पांव छूकर तीरथ ने खंडूरी का आर्शीवाद लिया।

वहीं इस दौरान कई दिलचस्प किस्से आज खंडूरी के घर पर ऐसे हुए जिससे कोई अपनी हंसी नहीं रोक पाया। मीडिया द्धारा पूछे सवाल का सीएम तीरथ बेबाकी से जवाब दे रहे थे, लेकिन मुख्यमंत्री तीरथ से पूछे जा रहे सवाल को तीरथ से ज्यादा बीसी खंडूरी जवाब दे रहे थे।

इस दौरान बीसी खंडूरी के आवास पर जैसे ही सीएम तीरथ सिंह रावत ने मीडिया से बात करना ही शुरू की और जैसे तीरथ ने कहा कि बीसी खंडूरी से उनके आदर्श हैं, तो वैसे ही खंडूरी ने कह दिया कि सीखा तो है लेकिन मैंने तो  तीरथ को हडकाया भी बहुत है। इस पर तीरथ सिंह रावत ने बात को आगे बढ़ाते हुए कहा कि बड़ो से ही डांट खाकर सीखा जाता है।

वहीं तीरथ सिंह रावत से मीडिया कर्मियों ने खंडूरी शासन काल को याद करते हुए कहा कि अधिकारियों पर लगाम के लिए हमेशा से खंडूरी को सराहा जाता है, आप कैसे विधायकों और जनता के द्धारा अफसरशाही के बेलगाम रवैय को संभालेंगे। इस पर तीरथ सिंह रावत के जवाब देने से पहले ही खूड़री ने जवाब देते हुए कहा कि, उन्होने केवल नौकरशाही पर ही नहीं सभी पर लगाम लगाके रखी। बस केवल उन पर अपने घर में लगाम लगी रहती थी। खंडूरी द्धारा अपनी बात रखने के बाद तीरथ सिंह रावत ने कहा कि बीसी खंडूरी से उन्होने बहुत कुछ सीखा है जो उनके काम आएगा।

उत्तराखंड समेत सभी न्यूज पाने के लिए जॉइन करें हमारा व्हाट्सएप (WhatsApp) ग्रुप, लिंक पर क्लिक करें.. Bharatjan News Whatsapp Group Link

Bharatjan

 

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

admin

Related Posts

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Read also x

error: Content is protected !!