इको पर्यटन विकास समिति चोपता – तुंगनाथ द्वारा हिमालय दिवस किया गया पौधरोपण

इको पर्यटन विकास समिति चोपता – तुंगनाथ द्वारा हिमालय दिवस किया गया पौधरोपण
0 0
Read Time:4 Minute, 4 Second

लक्ष्मण नेगी

ऊखीमठ! ईको पर्यटन विकास समिति चोपता तुंगनाथ द्वारा हिमालय दिवस धूमधाम से मनाया गया! हिमालय दिवस पर समिति द्वारा चोपता – तुंगनाथ पैदल मार्ग पर विभिन्न प्रजाति के पौधों का रोपण किया गया तथा चोपता से तुंगनाथ धाम तक जन जागरुकता रैली निकालकर तीर्थ यात्रियों, सैलानियों, व्यापारियों, जीप – टैक्सी यूनियन के पदाधिकारियों तथा घोड़े – खच्चर संचालकों को हिमालय के प्रति सजग किया गया जिसमें विभिन्न प्रान्तों से आये सैलानियों ने भी प्रतिभाग किया! जन जागरुकता रैली को सम्बोधित करते हुए कानपुर विश्व विद्यालय वनस्पति विज्ञान के पूर्व प्रोफेसर डा0 इन्द्र मणि सेमवाल ने कहा कि हिमालय युगों से देश का प्रहरी रहा है इसलिए हिमालय की सुरक्षा के लिए सभी को आगे आना होगा! पूर्व वाणिज्य सहायक आयुक्त शान्ति प्रसाद नौटियाल ने कहा कि युगीय पुरुषों ने हिमालय की महिमा का गुणगान अलग – अलग शब्दों में किया है इसलिए हिमालय की महिमा का गुणगान जितना किया जाय उतना कम है!

टिहरी बांध प्रभावित सघर्ष समिति प्रतापनगर टिहरी के संयोजक जीतमणि पैन्यूली ने कहा कि हिमालय युग – युगान्तर से कल्प – कल्पान्तर तक विश्व के भाल के रूप में तपस्यारत है इसलिए सभी को हिमालय के संरक्षण व संवर्धन के लिए आगे आना होगा! ईको पर्यटन विकास समिति अध्यक्ष भूपेन्द्र मैठाणी ने कहा कि इस बार समिति का यह सूक्ष्म प्रयास था तथा भविष्य में हिमालय दिवस को भव्य रूप से मनाया जायेगा! कहा कि हिमालय को बचाने के प्रयास यदि धरातल पर हो तो पर्यावरण समस्या से निजात मिल सकती है! उन्होंने बताया कि हिमालय दिवस पर समिति द्वारा चोपता तुंगनाथ पैदल मार्ग पर 11 भोज वृक्ष, 100 देवदार तथा 100 बुरांस के पौधे रोपित किये गये है तथा भोज वृक्षों को चीरबांसा उत्तरकाशी से प्राप्त किया गया है तथा भविष्य में चन्द्र शिला कर भोज वृक्ष रोपित करने की कार्य योजना है! ईको समिति द्वारा चोपता से तुंगनाथ धाम तक जन जागरुकता रैली निकालकर तीर्थ यात्रियों व सैलानियों को हिमालय के प्रति सजग किया गया जिसमें हरिद्वार की पूनम खत्री, प्रेरणा गुसाई सहित विभिन्न राज्यों के तीर्थ यात्रियों, सैलानियों ने प्रतिभाग किया! इस मौके पर योगेन्द्र भण्डारी, कुवर सिंह राणा, केवलानन्द मैठाणी, राजेन्द्र प्रसाद मैठाणी, अरविंद मैठाणी, अवतार सिंह, दीपक बमोला, बीरबल चौहान, सुजान सिंह, यशपाल नेगी, सतवीर सिंह, राजेन्द्र भण्डारी, दिलवर सिंह नेगी दिनेश सहित ईको पर्यटन विकास समिति के पदाधिकारी, सदस्य, व्यापार संघ, जीप टैक्सी यूनियन के पदाधिकारी व घोड़े – खच्चर संचालक मौजूद थे!

About Post Author

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Related Posts

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Read also x

error: Content is protected !!