ऊखीमठ जैबरी तोक में उद्यान विभाग द्वारा तैयार हार्टी टूरिज्म राजकीय आदर्श उद्यान केंद्र का जिलाधिकारी द्वारा निरीक्षण के साथ बैठक…

ऊखीमठ जैबरी तोक में उद्यान विभाग द्वारा तैयार हार्टी टूरिज्म राजकीय आदर्श उद्यान केंद्र का जिलाधिकारी द्वारा निरीक्षण के साथ बैठक…
0 0
Read Time:5 Minute, 34 Second

ऊखीमठ जैबरी तोक में उद्यान विभाग द्वारा तैयार हार्टी टूरिज्म राजकीय आदर्श उद्यान केंद्र का जिलाधिकारी द्वारा निरीक्षण के साथ बैठक…

       ऊखीमठ : ऊखीमठ जैबरी तोक में उद्यान विभाग द्वारा तैयार हार्टी टूरिज्म राजकीय आदर्श उद्यान केंद्र का जिलाधिकारी मयूर दीक्षित द्वारा निरीक्षण कर इसके शीघ्र संचालन करने के संबंध में संबंधित अधिकारियों के साथ बैठक आयोजित की गई।

बैठक में जिलाधिकारी ने कहा कि यह जनपद का पहला हार्टी टूरिज्म भवन तैयार किया गया है जो यहां किसानों को वैज्ञानिक तरीके से बागवानी का प्रशिक्षण भी दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि पहाड़ी शैली में तैयार यह हार्टी टूरिज्म भवन क्षेत्र में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए भी यह केंद्र अहम भूमिका निभाएगा। उन्होंने उद्यान अधिकारी एवं खंड विकास अधिकारी को निर्देश दिए हैं कि हार्टी टूरिज्म केंद्र का संचालन स्थानीय स्तर पर गठित समूहों द्वारा किया जाएगा, जिसका मुख्य उद्देश्य स्थानीय नागरिकों को स्वरोजगार के अवसर उपलब्ध कराना है। उन्होंने निर्देश दिए हैं कि इस संबंध में शीघ्र ही विज्ञप्ति जारी करें ताकि जो भी स्थानीय समूह हार्टी टूरिज्म के संचालन के इच्छुक होंगे वह इस संबंध में अपने आवेदन पत्र प्रस्तुत कर सकेंगे।
उन्होंने उद्यान अधिकारी एवं अधिशासी अभियंता ग्रामीण निर्माण विभाग को निर्देश दिए हैं कि हार्टी टूरिज्म भवन में जो भी बेड एवं फर्नीचर की आवश्यकता है उसकी तत्काल आपूर्ति सुनिश्चित कर ली जाए। उन्होंने कहा कि हार्टी टूरिज्म का जैबरी बासा के नाम से संचालन किया जाएगा जिसका उन्होंने एक सितंबर से संचालन शुरू करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इसके लिए जो भी आवश्यक व्यवस्थाएं एवं तैयारियां की जानी हैं वह समय से पूर्ण कर ली जाए। उन्होंने यह भी निर्देश दिए हैं कि हार्टी टूरिज्म का जिस संस्था द्वारा संचालन किया जाएगा उसके माध्यम से आने वाले पर्यटकों एवं तीर्थ यात्रियों को पहाड़ी परम्परागत स्थानीय उत्पादों के व्यंजन तैयार कर उपलब्ध कराए जाएं।

जिला उद्यान अधिकारी योगेंद्र सिंह चौधरी ने अवगत कराया है कि ऊखीमठ में वर्ष 1963 में राजकीय आदर्श उद्यान नर्सरी स्थापित की गई थी, जो लगभग दो हेक्टेयर भू-भाग में फैली है। स्थापना काल के बाद से ही उद्यान विभाग यहां ग्राफ्ट के माध्यम से विभिन्न प्रजाति के फलदार पौधों की नर्सरी तैयार करता आ रहा है। यह पौध सचल केंद्र की मांग के अनुरूप किसानों को वितरित की जाती है ताकि अधिक से अधिक किसान बागवानी से जोड़े जा सकें। उद्यान केंद्र एक रमणीक स्थल होने के साथ ही पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र भी है।

क्षेत्र की नैसर्गिक सुंदरता को देखते हुए सरकार ने वर्ष 2020 में इस नर्सरी को हार्टी टूरिज्म भवन (औद्यानिकी पर्यटन केंद्र) के रूप में विकसित करने की योजना बनाई थी। जनवरी, 2021 में राजकीय आदर्श उद्यान केंद्र को हार्टी टूरिज्म भवन के रूप में विकसित करने के लिए 1.43 करोड़ रुपए की स्वीकृति मिली। जिसका निर्माण कार्यदायी संस्था ग्रामीण निर्माण विभाग द्वारा किया गया।

इस अवसर पर उप जिलाधिकारी ऊखीमठ जितेंद्र वर्मा, जिला पर्यटन अधिकारी सुशील नौटियाल, अधिशासी अभियंता ग्रामीण निर्माण विभाग हितेश पाल सिंह, सूचना अधिकारी रती लाल शाह, खंड विकास अधिकारी दिनेश प्रसाद मैठाणी, सहायक अभियंता ग्रामीण निर्माण विभाग आशीष बहुगुणा, राजस्व उपनिरीक्षक सतीश भट्ट, बद्री केदार स्वयं सहायता समूह की अध्यक्ष संगीता नेगी व सपना सहित संबंधित कर्मचारी उपस्थित रहे।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

admin

Related Posts

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Read also x

error: Content is protected !!