उत्तराखंड: दादी के पास से 3 साल की लाडली को उठा ले गया गुलदार, जंगल में मिली मासूम की क्षत-विक्षत लाश

0 0
Read Time:2 Minute, 32 Second

पौड़ी: उत्तराखंड के पहाड़ी क्षेत्रों में लोग लगातार जंगली जानवरों का शिकार हो रहे हैं। चाहे महिलाएं हो या बुजुर्ग या फिर मासूम बच्चे सभी को जंगली जानवर अपना शिकार बना रहे हैं। ऐसी ही एक दर्दनाक खबर पौड़ी से है, जहां मासूम को नरभक्षी गुलदार ने निवाला बनाया है।

यहां दादी के साथ खेत से घर की तरफ आ रही 3 साल की मासूम को गुलदार उठा ले गया। बाद में बच्ची की लाश झाड़ियों में पड़ी मिली। घटना दुगड्डा नगर पालिका से सटे गांव गोदी बड़ी की है। यहां चंद्रमोहन डबराल अपने परिवार के साथ रहते हैं। परिवार में 3 साल की बेटी माही भी थी। पूरा परिवार माही पर जान छिड़कता था। वो सबकी लाडली थी। शनिवार शाम माही अपनी दादी और अन्य ग्रामीणों के साथ खेत से घर की तरफ आ रही थी। माही अपने साथी बच्चों के साथ खेलते हुए आगे चल रही थी। इसी दौरान झाड़ियों में घात लगाकर बैठे गुलदार ने माही पर झपट्टा मार दिया और उसे घसीटते हुए झाड़ियों की तरफ ले गया।

घटना के बाद ग्रामीणों ने शोर मचाते हुए झाड़ियों की तरफ पत्थर फेंकने शुरू कर दिए। जिसके बाद गुलदार माही को मौके पर छोड़कर जंगल की तरफ भाग गया, लेकिन तब तक काफी देर हो चुकी थी। गुलदार के हमले में माही की मौत हो चुकी थी। गुलदार ने माही के चेहरे और गर्दन पर गहरे घाव कर दिए थे।

सूचना मिलने पर लैंसडाउन वन प्रभाग के दुगड्डा रेंज के अधिकारी पूरी टीम के साथ गांव में पहुंचे और घटना की जानकारी जुटाई। बता दें कि यहां 11 मार्च को भी गुलदार ने गांव सरड़ा में एक बच्चे पर हमला किया था। हमले में बच्चा बुरी तरह घायल हो गया था। क्षेत्र मे गुलदार के हमले की बढ़ती घटनाओं से लोग दहशत में हैं।  बहरहाल वन विभाग की टीम गुलदार की तलाश में जुट गई है।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

admin

Related Posts

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Read also x

error: Content is protected !!