जौहार क्लब मुनस्यारी’ द्वारा दिया जा रहा नौनिहालों को स्कीइंग प्रशिक्षण….

जौहार क्लब मुनस्यारी’ द्वारा दिया जा रहा नौनिहालों को स्कीइंग प्रशिक्षण….
0 0
Read Time:5 Minute, 7 Second

जौहार क्लब मुनस्यारी’ द्वारा दिया जा रहा नौनिहालों को स्कीइंग प्रशिक्षण….

       पिथौरागढ़-मुनस्यारी। वर्ष 1956 में स्थापित ‘जौहर क्लब मुनस्यारी’ अपने इतिहास के पन्नों पर हर वर्ष जून माह में सीमांत तहसील के अंतर्गत खेल महोत्सव आयोजित करता आया है, लेकिन इस वर्ष ‘जौहार क्लब मुनस्यारी’ ने अपने क्लब के अंतर्गत एक नया अध्याय ‘साहसिक खेलकूद’ जोड़ने की पहल की है, जिस साहसिक खेलकूद के अंतर्गत स्कीइंग प्रशिक्षण को आयोजित करने की बात तय की गई है। अतः अब सीमांत तहसील मुनस्यारी के स्कीइंग शौकीनों को निराश नहीं होना पड़ेगा, क्योंकि जौहार क्लब द्वारा कल 07 फरवरी से स्कीइंग प्रशिक्षण का आगाज कर दिया है। जिसका उद्घाटन पद्मश्री प्राप्तकर्ता लवराज सिंह धर्मसतु द्वारा किया गया, जिन्होंने 07 बार एवरेस्ट फतह किया है। ये साहसिक खेलकूद मुनस्यारी के अंतर्गत बेटूलीधार की हसीन वादियों में किया जा रहा है, क्योंकि बेटूलीधार में हर वर्ष लगभग 2-3 फ़ीट बर्फ गिरती है। स्थानीय लोगों का कहना है कि यदि फरवरी माह में बेटूलीधार में बर्फ न रही तो ये साहसिक खेलकूद खलियाटॉप में भी आयोजित किए जा सकते हैं, जहाँ मार्च माह तक बर्फ बनी रहती है।

        जौहार क्लब के अध्यक्ष केदार सिंह मर्तोलिया का कहना है कि जौहार क्लब ने यह निर्णय इसलिए लिया, क्योंकि मुनस्यारी में जो प्राकृतिक विरासत हमें मिली है उसका हम साहसिक खेलकूद के माध्यम से सकारात्मक रूप से दोहन कर सकें। फलस्वरूप हमारे बच्चे व आने वाली पीढ़ी अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर एक स्वर्णिम लकीर खींच सके और जिससे रोजगार के नए आयाम जुड़ सकें। उन्होंने आगे बताया कि हमारा क्लब मुनस्यारी में हर वर्ष कैम्प लगाएगा, जिसमें अभी जौहर क्लब सिर्फ़ बालिकाओं को इस साहसिक खेलकूद के लिए चयनित कर उन्हें प्रशिक्षण दे रहा है। चयनित बालिकाओं का सभी खर्च जौहार क्लब द्वारा वहन किया जाएगा। उन्होंने बताया कि इस वर्ष 20 बालिकाओं को जौहार क्लब द्वारा चयनित कर उन्हें 6 दिन का प्रशिक्षण दिया जा रहा है। स्कीइंग को बढ़ावा देने के लिए आगामी वर्षों में जौहार क्लब कलेंडर जारी करेगा।

         जौहार क्लब मुनस्यारी के पूर्व अध्यक्ष कुशाल सिंह धर्मसतु बताते हैं कि 1956 से लेकर अब तक जौहार क्लब के लोग व मुनस्यारी के स्थानीय निवासियों के योगदान से ही हम इस क्लब को फलीभूत कर पाएं हैं। आजतक सरकार का इसमें कोई भी योगदान नहीं रहा है। वे कहते हैं कि मुनस्यारी तहसील क्षेत्र की सामाजिक संस्था जौहार क्लब यहां के लिए हर सम्भव प्रयासरत्त रहेगी। वे बताते हैं कि स्कीइंग की इस पहचान को बनाए रखने के लिए जौहर क्लब कोई कसर नहीं छोड़ेगा।

         स्थानीय निवासी राजेंद्र टोलिया बताते हैं कि प्रकृति ने बर्फ के रूप में क्षेत्र को एक अनुपम उपहार दिया है, लेकिन इसके उपयोग के लिए वर्षों से कोई पहल नहीं हो रही थी। इसलिए इस वर्ष जौहार क्लब द्वारा स्कीइंग प्रशिक्षण को शुरू कर क्षेत्र व क्लब को एक नई पहचान दी है। इस पहचान को बनाए रखने की जरूरत है, जिसका लाभ भविष्य में क्षेत्र के युवाओं को ही मिलना है।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

admin

Related Posts

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Read also x

error: Content is protected !!