चमोली पुलिस ने धुर नक्सली इलाके से किया ठग को गिरफ्तार…

चमोली पुलिस ने धुर नक्सली इलाके से किया ठग को गिरफ्तार…
0 0
Read Time:4 Minute, 15 Second

चमोली पुलिस ने धुर नक्सली इलाके से किया ठग को गिरफ्तार…

            चमोली। चमोली पुलिस ने धुर नक्सली इलाके से साइबर ठग को गिरफ्तार किया है। ठग ने आक्सीजन सीएसपी दिलवाने के नाम पर डेढ़ लाख रुपए की साइबर धोखाधड़ी की थी। पुलिस ने बिहार के मुंगेर से ठग को गिरफ्तार कर चमोली लाया गया, जहां न्यायालय के आदेशों पर ठग को जिला कारागार पुरसाड़ी भेज दिया गया है।

               ठगों द्वारा कंपनियों में निवेश कर लाभ कमाने का लालच देकर लाखों रुपये की धोखाधड़ी की जा रही है। 10 जनवरी को लक्ष्मण सिंह पुत्र राजेन्द्र सिंह, निवासी पगना, घाट ने कोतवाली चमोली में तहरीर देकर बताया गया कि माई ऑक्सीजन कंपनी की वेबसाईट पर उन्होंने सीएसपी कस्टूमर सर्विस पाइंट के लिए रजिस्ट्रेशन किया गया था। बताया कि 21 दिसंबर 2021 को उन्हें दूरभाषा पर सीएसपी लेने के लिए रजिस्ट्रेशन व सिक्योरिटी मनी के रूप में अलग-अलग खातों में एक लाख उनचास हजार चार सौ रुपये की धोखाधड़ी की गई।
                     शिकायत के आधार पर कोतवाली चमोली में मुकदमा दर्ज किया गया। जिसकी विवेचना चौकी प्रभारी घाट सुमित चौधरी को सौंपी गई। धोखाधड़ी करने वाले अभियुक्तों की तलाश व गिरफ्तारी के लिए विशेष पुलिस टीम गठित की गई। अभियुक्त की गिरफ्तारी के लिए गठित पुलिस टीम को बिहार रवाना किया गया। सर्विलांस सैल द्वारा दी गई सूचना, लीड व तीन बैंक खातों की केवाइसी की जानकारी के आधार पर पुलिस टीम जिला मुंगेर पहुंची।
       खाताधारक व मोबाइल नंबर की जानकारी के आधार पर प्रकाश में आए अभियुक्त नंदु कुमार पुत्र राम बहादुर पासवान निवासी बौखड़ा जिला मुंगेर (बिहार) के घर पहुंचे। अभियुक्त पूछताछ करने पर कोई संतोषजनक उत्तर नहीं दे पाया। आवश्यक पूछताछ के लिए उसे थाना धरहरा लाया गया। जहां अभियुक्त नन्दु कमार से खाताधारक संख्या 110010755947 में 24 दिसंबर को 20 हजार रुपए, 27 दिसंबर को 16,800 रुपये के बारे व अन्य खातों में डाली गई राशि के बारे में पूछताछ पर कोई सही जानकारी नहीं दे पाया। वादी द्वारा बताए गए खाता संख्या से पुष्टि होने पर तीन खातों में कुल 72,600 रुपये की धनराशि स्थानांतरण की गई।

              नन्दु कुमार का मोबाइल नंबर तीनों बैंक खातों में घटना के समय प्रयुक्त पाया गया। अभियुक्त के पास से धोखाधड़ी में प्रयुक्त टेक्नो के-26 मल्टीमीडिया व इंटेल कंपनी का कीपैड फोन प्राप्त हुआ, जिसके बाद वादी लक्ष्मण सिंह के खाते से एक लाख उनचास हजार चार सौ रुपये विभिन्न खाते में की गई ट्रांजेक्शन डिटेल्स दिखाई गई तो यह कोई भी जानकारी स्पष्ट रूप से नहीं दे सका। धोखाधड़ी के संबंध में स्पष्ट जानकारी न देने पर अभियुक्त को मुंगेर (बिहार) से गिरफ्तार कर स्थानीय न्यायालय से ट्रांजिट रिमाण्ड प्राप्त कर उत्तराखंड लाया गया।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

admin

Related Posts

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Read also x

error: Content is protected !!